कार्यस्थल पर अंतर्मुखी (Introvert) कर्मचारी को कैसे संभालें
Introvert-employee-management-PagarBook-Blog

फेसबुक के मार्क जुकरबर्ग, माइक्रोसॉफ्ट के बिल गेट्स और हैरी पॉटर की लेखिका जे के राउलिंग में क्या समानता है?

 ये सभी अपने आप को अंतर्मुखी बताते हैं।

आम धारणा के विपरीत, अंतर्मुखता शांत और शर्मीलेपन का पर्यायवाची नहीं है। यह लोगों और गतिविधियों के प्रति एक व्यक्ति के रवैये के संबंध में है। यद्यपि अंतर्मुखी अपने मनोभाव में अधिक सतर्क होते हैं, वे बहिर्मुखी व्यक्ति जितने ही कल्पनाशील, उत्साही और कुशाग्र होते हैं।

व्यावसायिक दुनिया में मजबूत, प्रबल और दृढ़ होने की मांग, एक बहुत बड़ी गलतफहमी है। यदि आप एक मैनेजर हैं तो इसकी संभावना है कि आपने अपने काम के दौरान अनेक प्रकार के व्यक्तित्व और उनके काम करने के तरीके को जाना होगा।

आमतौर पर, व्यक्ति दो व्यापक श्रेणियों में आते हैं: ज़िंदादिल/मिलनसार (बहिर्मुखी) या लोगों से बहुत जल्द नहीं घुलने-मिलने वाले/अपने आप में रहने वाले (अंतर्मुखी)। किसी का सामाजिक तालमेल कैसा भी हो, विभिन्न व्यक्तित्व शैली एक टीम में विविध कौशल और दृष्टिकोण लाती हैं।

क्या आप सहमत नहीं हैं? 

एक मैनेजर के रूप में, आपको प्रत्येक व्यक्ति की क्षमता का पूरा उपयोग करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे काम में समर्थित और सम्मानित महसूस करें। 

यह विशेष रूप से सच है कि अंतर्मुखी लोगों के शांत या संकोचशील स्वभाव को बहिर्मुखी से अलग दृष्टिकोण की आवश्यकता होगी। 

यह ब्लॉग आपके संगठन में अंतर्मुखी को मैनेज करने और उनकी क्षमता को अधिकतम करने की दिशा में प्रयास करने के लिए कुछ उपयोगी तरीकों को बताता है।

एक अंतर्मुखी व्यक्ति को कैसे पहचानें

अंतर्मुखी व्यक्ति स्वयं भी एक दूसरे से बहुत अलग होते हैं। यद्यपि निम्नलिखित गुण कुछ अंतर्मुखी लोगों में प्रत्यक्ष दिखते हैं लेकिन सभी अंतर्मुखी व्यक्ति इन मानदंडों में से सभी को पूरा नहीं करते हैं। 

फिर भी, अंतर्मुखी व्यक्तियों की सबसे सामान्य विशेषताओं में से कुछ निम्नलिखित हैं:

  • वे बहुत स्वतंत्र होते हैं।

  • इनमें उच्च स्तर की आत्म-जागरूकता होती है।

  • उन्हें दूसरे लोग शर्मीले और गंभीर समझते है।

  • आइडिया को प्रस्तुत किए जाने पर, अंतर्मुखी लोग प्रेरित हो जाते हैं।

  • वे अकेले या सीमित लोगों के साथ गतिविधियों में शामिल होना पसंद करते हैं।

एक अंतर्मुखी व्यक्ति क्यों एक बेहतरीन कर्मचारी और नेता बनते हैं ?

  • अंतर्मुखी अक्सर उत्कृष्ट श्रोता होते हैं, जो गुण टीम का नेतृत्व करते समय काम आता है।
  • सर्वश्रेष्ठ लीडरशिप प्रथाओं में से एक ‘सर्वेंट लीडरशिप’ है जो एक ऐसी प्रबंधन शैली है जिसमें कर्मचारियों को प्राथमिकता और उन्हें पहला प्रावधान दिया जाता है। कई अध्ययनों से यह संकेत मिलता है कि एक अंतर्मुखी व्यक्ति अक्सर इस नेतृत्व शैली से जुड़े लक्षणों का प्रदर्शन करते हैं, जैसे, नम्रता।
  • घटनाओं के विश्लेषण में चुपचाप काम करने वाले लोग अधिक सचेत और चिंतनशील होते हैं। ऐसी सोच लोगों को अधिक रचनात्मक बनाता है और किसी को इस बात के लिए प्रेरित करता है कि वह अधिक जानकारी युक्त निर्णय लेगा। ऐसी विशेषता एक कर्मचारी और मैनेजर के रूप में फायदेमंद होगी।
  • अंतर्मुखी लोग व्यक्तिगत और हर एक के साथ निजी रिश्ते को महत्व देते हैं, जो एम्प्लॉई इंगेजमेंट के लिए काफी जरूरी है। इसके अतिरिक्त, अपने साथियों के साथ व्यक्तिगत संबंध बनाने की उनकी अधिक संभावना होती है, जो उनके लीडर या टीम के सदस्य से कर्मचारियों के अपनेपन की भावना को बढ़ाता है।
  • आत्म-जागरूकता एक महत्वपूर्ण विशेषता है जिसे सभी लीडर और वर्कर को भावनात्मक रूप से बुद्धिमान होने के लिए अपनाना चाहिए। अंतर्मुखी ध्यान से सुनते हैं, सामाजिक संकेतों को समझते हैं, ज्ञान का विकास करते हैं और अपनी आत्म-जागरूकता के परिणामस्वरूप बड़ी तस्वीर को देखते हैं।

अपने संगठन में अंतर्मुखी व्यक्ति को मैनेज करने के तरीके

एक लीडर के रूप में, आपको विभिन्न व्यक्तित्व वाले व्यक्ति के साथ काम करने की क्षमता को विकसित करना होगा और फिर उसी अनुसार अपने प्रबंधन स्टाइल को बदलना होगा। यहाँ शांत (अंतमुर्खी) कर्मचारी को अधिक प्रभावी तरीके से मैनेज करने में आपकी सहायता के लिए कुछ तरीके दिए हुए हैं।

1 – उनके साथ धैर्य रखें

ऑफिस के रोज के चिट-चैट से बाहर रहना या लोगों के साथ ज्यादा नहीं घुलना-मिलना अंतर्मुखी व्यक्तित्व का हिस्सा है। एक प्रबंधक के रूप में, सुनिश्चित करें कि आप उन्हें व्यक्तिगत रूप से नहीं लेंगे या उनके बारे में कोई निष्कर्ष नहीं निकालेंगे। 

अभिव्यक्ति की कमी का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कर्मचारी असंतुष्ट या खाली है। कभी-कभी, इसका तात्पर्य है कि वे अपनी सोच में हैं, फोक्स्ड और खुश हैं। 

मुख्य रूप से अगर अंतर्मुखी व्यक्ति आपकी टीम या संगठन के लिए नया है, तो आपको उनके साथ घुलने-मिलने में कुछ समय लग सकता है। उन्हें प्रोत्साहित करें और धैर्य रखें क्योंकि वे अपनी शुरुआती आशंका को दूर कर पाएँगे।

उनकी चुप्पी को नुकसान के बजाय एक फायदे के रूप में पहचानें। एक अंतर्मुखी व्यक्ति के चुप्पी का मतलब है कि वे अपने अगले कदम के बारे में सोचते हैं और इसे रचनात्मक रूप से डिजाइन करते हैं, जिससे किसी भी व्यवसाय को फायदा होता है।

2 – उन्हें उनकी जरूरत अनुसार समय दें

यूं तो अंतर्मुखी व्यक्ति अत्यधिक कलात्मक और इनोवेटिव होते हैं, उन्हें कुशलता से काम करने के लिए उपयुक्त सेटिंग्स की आवश्यकता होती है। इन लोगों को उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए सशक्त बनाने में, मैनेजर को उनके व्यक्तिगत समय को स्वीकार करना सीखना चाहिए। 

अंतर्मुखी व्यक्ति, जो आसानी से दूसरों के साथ लंबे समय तक बातचीत से थक जाते हैं, उन्हें शांत होने के लिए समय की आवश्यकता होती है। उन्हें रिचार्ज करने और अपने असाइनमेंट को पूरा करने के लिए महत्वपूर्ण अकेले समय प्रदान करना मुश्किल हो सकता है।

लेकिन अंतर्मुखी कर्मचारी को उनके डेस्क पर लौटने से पहले रिलैक्स करने के लिए आप शांत क्षेत्र प्रदान कर सकते हैं। यह झपकी लेने का एक छोटी सी जगह हो सकती है या किताबों के साथ समय बिताने के लिए एक शांत जगह। 

अंतर्मुखी कर्मचारियों को सीमित आधार पर घर से काम करने की अनुमति देना अक्सर उनके उत्पादकता को सुधारने में मदद कर सकता है। अंतर्मुखी कर्मचारियों के साथ व्यक्तिगत मीटिंग शेड्यूल करना, उन्हें व्यक्तिगत संपर्क के साथ अधिक सहज करने का एक और शानदार तरीका है। इसकी संभावना है कि वे ईमेल या चैट को पसंद करें, इसलिए आप इस बात पर ध्यान दें।

manage_staff_free_pagarbook1

3 – सोचने, योजना बनाने और तैयारी करने का समय दें

एक अंतर्मुखी व्यक्ति को अपने विचारों को एकत्रित कर उसे दिखाने का मौका दें। इससे उनमें उत्कृष्ट विचार और रणनीति बताने की संभावना बढ़ जाती है। 

मैनेजर्स को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सम्मेलन का एजेंडा बैठक से पहले समझ में आए जो अंतर्मुखी कर्मचारियों को कुशलता से अपने विचारों के लिए तैयार करने और अपने आइडिया को प्रस्तुत करने में सहायता करता है।

अपरिहार्य आपातकालीन बैठकों में, मैनेजर को सम्मेलन या उसके एक दिन बाद अंतर्मुखी कर्मचारियों को विचार करने और पूछताछ करने के लिए अधिक समय देना चाहिए।

इसके अतिरिक्त, उनके राय उनके पंसदीदा संवाद माध्यम से लेना उचित हो सकता है।

उदाहरण के लिए, मैनेजर्स बैठक के बाद इनपुट जानने के लिए ईमेल या टेक्सट मैसेज भेजने से पहले एक या दो घंटे प्रतीक्षा कर सकते हैं।

4 – दूसरों से अलग होने का जश्न मनाएं

इस गलतफहमी में ना रहे कि अंतर्मुखी व्यक्तियों को समूह में काम करना पसंद नहीं है; वे कभी-कभी कई तरीकों से एक टीम के सबसे समर्पित और लाभकर प्रतिभागी होते हैं। अंतर्मुखी व्यक्तियों पर किसी का ध्यान नहीं जाना स्वाभाविक है, लेकिन आपको उन्हें सक्रिय रूप से तलाशना चाहिए और जितना संभव हो उतना उनके साथ मिलनसार होना चाहिए।

मान लीजिए कि टीम में अंतर्मुखी और बहिर्मुखी हैं। ऐसी स्थिति में, कर्मचारियों से जुड़ी कुछ गतिविधियां जैसे टीम के प्रत्येक सदस्य की विशिष्ट विशेषता और उन विशेषताओं का परिणाम में योगदान, पर चर्चा करने में मदद कर सकती हैं।

निष्कर्ष

हालाँकि, प्रबंधकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे अंतर्मुखी सदस्यों को आशावादी तरीके से काम करने के लिए प्रेरित करने के लिए एजेंडा संचारित करें।

जब एक अंतर्मुखी व्यक्ति की प्रतिभा को अधिक मान्यता प्राप्त हो जाती है, तो व्यावसायिक संस्कृतियों और प्रबंधन शैलियों को बदलने की संभावना होती है।

कर्मचारी दक्षता और क्षमता को बढ़ाने की मांग करने वाले मैनेजर्स को प्रबंधन के लिए निस्संदेह इस गाइड से राय लेनी चाहिए!

इस पर आपकी क्या राय है, कृपया कमेंट बॉक्स में अंतर्मुखी कर्मचारियों के बारे में अपने विचार लिखें। 

इस तरह के दिलचस्प और ज्ञानवर्धक लेख के लिए हमारे साप्ताहिक न्यूजलेटर को सब्सक्राइब करना न भूलें।

Still Not Using ‘PagarBook’ for Employee Management?
Prashant Kumar

Prashant Kumar

Associate Growth Manager

Prashant is Associate Growth Manager in PagarBook and manages all the organic web presence for brand.

0 Comments

Submit a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *